add

Header Ads

फास्टैग क्या है और हम इसका उपयोग कैसे कर सकते हैं ? Fasttag and its use


फास्टैग क्या है
फास्टैग एक प्रकार का टोल प्लाजा पर टोल कलेक्शन करने का डिजिटल सिस्टम है इस सिस्टम की सहायता से टोल प्लाजा पर टोल का भुगतान करने में होने वाली परेशानियों को दूर किया जा सकता है फास्टैग का शुरुआत नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 2014 में ही शुरू किया था अभी इस सुविधा का प्रयोग भारत के चुनिंदा राष्ट्रीय राजमार्गों पर किया जा रहा है | जल्द ही इस सुविधा भारत के सभी शहरों एवं राजमार्गों पर शुरू कर दिया जाएगा इनकी सहायता से वाहन चालक टोल प्लाजा पर बिना रुके किसी परेशानी के टोल का भुगतान डिजिटल तरीके से कर सकते हैं
इस सुविधा का लाभ लेने के लिए बहन चालक को अपने गाड़ी के सामने लगाना अनिवार्य है जिससे टोल प्लाजा पर लगे सेंसर इस फास्टैग को स्क्रीन कर सकते हैं और आपके फास्टैग अकाउंट से आप का  टोल का भुगतान हो जाएगा

 

फास्टैग का क्या लाभ है ?
टोल प्लाजा पर टोल के भुगतान करने में लगने वाले गाड़ियों की लंबी लाइन से छुटकारा मिलेगा साथ ही इसमें आपको समय की बचत भी होगी यही नहीं यदि आप फास्टैग का  प्रयोग करते हैं तो आप जिस बैंक से अपना फास्टैग जारी करवाते हैं  इनके द्वारा आपको 2.5% तक कैशबैक मिलेगा अभी इस फास्टैग का प्रयोग भारत के चुनिंदा शहरों एवं राजमार्गों पर किया जा रहा है सड़क परिवहन मंत्रालय के मुताबिक जल्द ही इसे पूरे भारत में शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है


फास्टैग कैसे काम करता है
फास्टैग में आप इसकी जानकारी रेडियो फ्रीक्वेंसी आईडेंटिफिकेशन लगी होती है और इस फास्टैग को गाड़ी की सामने वाली विंडो स्क्रीन में लगाया जाता है जैसे ही गाड़ी टोल प्लाजा पर आती है टोल प्लाजा पर लगे सेंसर उस फास्टैग को स्कैन कर लेते हैं और उस टोल प्लाजा पर लगने वाले शुल्क का भुगतान आपके फास्टैग खाता से हो जाता है इस तरीके से आप टोल प्लाजा पर बिना रुके बिना किसी परेशानी के अपने टोल का भुगतान डिस्टल तरीके से कर सकते हैं आप इसकी जानकारी नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर भी जाकर कर सकते हैं

फास्टैग को कैसे जारी करवाया जाता है
इस फास्टैग को भारत के कई बैंको द्वारा जारी किया जा रहा है आप अपने नजदीकी बैंक का शाखा से संपर्क करके जारी करा सकते हैं या फास्ट टाइप 5 साल के लिए वैलिड होता है यदि आपका फास्टैग की धनराशि भुगतान करने के दौरान समाप्त हो जाती है तो आप रिचार्ज भी करवा सकते हैं रिचार्ज करने के लिए आप कई तरीके का उपयोग कर सकते हैं जिसमें डेबिट कार्ड, एटीएम कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग,पेटीएम आदि है|

Post a comment

0 Comments